लखनऊ में आतंकियों से मुठभेड़ जारी, एक मारा गया, IS से संबंध होने का शक

घनी आबादी वाले ठिकानों में छिपे हैं आतंकी

0
51

उत्तर प्रदेश में चुनाव के आखिरी चरण से पहले आतंकियों से मुठभेड़ की घटना ने पूरे मुल्क का ध्यान अपनी ओर खींच रखा है। 12 घंटे से मुठभेड़ चल रही है। एक आतंकी मारा गया है। पुलिस बॉडी के हाथ नहीं लगने की वजह से पुष्टि नहीं कर रही है। घोषणा कभी भी हो सकती है।


आतंकियों की संख्या दो मानी जा रही है। पहले माना जा रहा था कि एक ही आतंकी है। दावा किया जा रहा है कि ये आतंकी IS से संबंधित हो सकते हैं।

मुठभेड़ के बीच वाराणसी जोन  को सतर्क कर दिया गया है। यहां रेड अलर्ट घोषित किया गया है। हर संदिग्ध गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। सीमाओं को सील कर दिया गया है।

ये मुठभेड़ लखनऊ के ठाकुरगंज इलाके में चल रही है। संदिग्ध आतंकी को पकड़ने के लिए आतंक निरोधी दस्ता यानी एटीएस ने मंगलवार दोपहर से अभियान शुरू किया। जिस संदिग्ध को घेरा गया था, उसका नाम सैफुल बताया जा रहा है। उसके तार मध्यप्रदेश में शाहजहांपुर के पास भोपाल उज्जैन पैसेंटर ट्रेन में हुए धमाके से जुड़े हैं। इस घटना में 8 लोग घायल हुए थे। घटना मंगलवार सुबह की है जिसके बाद एटीएस और लोकल पुलिस घटनास्थल पर पहुंची।

सूचनाओं के आधार पर पुलिस ने तीन संदिग्ध को गिरफ्तार किया। आईडी से धमाके की पुष्टि होने पर केंद्रीय एजेंसियों से इसकी चर्चा की गयी। हर तरह की जानकारी इकट्ठी करने के बाद उत्तर प्रदेश में संदिग्ध आतंकियों को पकड़ने की मुहिम शुरू हुई।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दलजीत चौधरी के हवाले से खबर आयी है कि संदिग्ध ठाकुरगंज इलाके में हाजी कॉलोनी में एक घर में छिपा है जो घनी आबादी वाला इलाका है।

 

लिखें अपने विचार