उम्र 11 साल, हल करता है बैंक P.O के सवाल, 24 घंटे में 7000 से ज्यादा Views

प्रतिक्रियाओं में नन्हे 'सर' को बधाई दे रहे हैं लोग

1
574

11 साल के आदत्य उर्फ आदि ने वो कर दिखाया है जिसके लिए आप भी उसे दाद देना चाहेंगे। उम्र से बड़ी उपलब्धि के किस्से बहुत होते हैं। ये किस्सा भी कुछ ऐसा ही है।

आदि छठी क्लास में पढ़ता है। जमशेदपुर में रहकर आम विद्यार्थी की तरह पढ़ाई करता है। उसके पिता अमर कुमार सिंह प्रतियोगी परीक्षा के लिए बच्चों को तैयार करते हैं। ऑनलाइन टीचिंग पिछले पांच महीने से कर रहे हैं। आदि उस टीचिंग को वाच किया करता था जो आम तौर पर गणित के लिए होता था। जो प्रतिक्रियाएं आती थीं छात्रोंं की उनमें रीज़निंग की डिमांड रहती थी।
आदित्य उर्फ आदि को पहले 8 घंटे में ही डेढ़ सौ से ज्यादा शुभकामनाएं मिलीं

आदि के दिमाग ये बात घुस गयी। वह बचपने से ही पज़ल हल करने का शौकीन रहा है। उसने अपने पिता से जिद करनी शुरू कर दी कि पीओ के एक्जाम में आने वाले पेपर वह भी बना लेता है। आप उसे देखें। पिताजी नजरअंदाज करते रहे। एक दिन जब वह सर पर सवार हो गया कि आप चाहें तो चेक कर लें मैं कोई भी पजल बना सकता हूं। रीज़िनिंग के सारे सवाल उसके लिए पज़ल ही थे।

पिता अमर कुमार सिंह ने उसे बैंक परीक्षा में आए प्रश्न दिए। उसने हल कर डाला। उन्होंने उसकी वजह पूछी। जवाब क्लेयरिटी के साथ था। अब उनका माथा ठनका। उन्होंने एक के बाद एक कई प्रश्नों को जमा किया जो पिछले कई सालों में आए थे। आदि ने सबको हल कर दिखाया। तरीका भी पसंद आने वाला था।
बस, आदि के पिताजी ने उसे अपने ही यू ट्यूब चैनल पर लांच करने का फैसला कर लिया। आज ही उसका पहला एपिसोड लांच हुआ। अपने पहले ही एपिसोड में आदि ने धूम मचा दी। पहले 12 घंटे में 5000 से ज्यादा लोगों ने उसे देखा पौने दो सौ लोगों ने कमेंट दिए, तो करीब दौ सौल लोगों ने उसके वीडियो को लाइक किया।
अब पिता अमर कुमार सिंह कह रहे हैं कि इतनी त्वरित प्रतिक्रिया तो कभी उनके ऑनलाइन क्लास को भी नहीं मिली। वाह। आदित्य वाह। वेलडन। इस जज्बे को आगे भी बढ़ाते रहो।
 

1 कमेंट

लिखें अपने विचार