एड में PM का फोटो यूज करने पर रिलायंस Jio पर लग सकता है सिर्फ 500 रुपए जुर्माना

0
14
दिल्ली.रिलायंस ने जियो की लॉन्चिंग के दौरान प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एडवर्टाइजमेंट में नरेंद्र मोदी की फोटो यूज की थी। इसके लिए पीएमओ की परमिशन नहीं ली गई थी।समाजवादी पार्टी के एमपी शेखर ने राज्य सभा में इस पर सवाल किया था। जवाब में इन्फाॅर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग स्टेट मिनिस्टर राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने गुरुवार को यह जानकारी दी। बता दें कि सितंबर में अरविंद केजरीवाल ने भी इस मामले को लेकर मोदी पर निशाना साधा था। केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा था कि रिलायंस के लिए मॉडलिंग करने वाले मोदी जी को जनता 2019 में सबक सिखाएगी। एक्ट 1950 के तहत राज्य-चिह्न है पीएम की तस्वीर…
– राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि जियो को पीएमओ ने मोदी की फोटो इस्तेमाल करने की परमिशन नहीं दी थी।
– राठौड़ ने यह भी साफ किया कि DAVP (डायरेक्टोरेट ऑफ एडवर्टाइजिंग एंड विजुअल पब्लिसिटी) ही गवर्नमेंट से जुड़े एड जारी करता है। ये किसी भी प्राइवेट बॉडी या ऑर्गेनाइजेशन के लिए एड रिलीज नहीं करता।
– उन्होंने बताया कि पीएम की तस्वीर एक्ट 1950 के तहत राज्य-चिह्न के दायरे में आती है।
अंबानी ने डिजिटल इंडिया से जोड़ा था जियो के प्रमोशन को
– दरअसल, 1 सितंबर को रिलायंस की एजीएम के बाद मुकेश अंबानी ने कहा था कि जियो सर्विस मोदी के डिजिटल इंडिया कैंपेन को डेडिकेट की गई है।
– मुकेश अंबानी ने कहा था- जियो प्राइम मिनिस्टर नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करेगा।
अंबानी की जेब में मोदी
– जियो के एड में मोदी की तस्वीर के इस्तेमाल पर केजरीवाल ने कहा था- अब इससे ज्यादा और क्या प्रूफ चाहिए कि मोदी अंबानी की जेब में हैं।
– केजरीवाल ने मोदी को मिस्टर रिलायंस भी कहा है। बता दें कि रिलायंस ने अपनी 4जी सर्विस को मोदी सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम को डेडिकेट किया है।
बिना परमिशन इस्तेमाल पर रोक
– कानूनन 30 से ज्यादा ऐसे फोटो और निशान हैं, जिनका भारत सरकार की परमिशन बगैर इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।
– इनमें प्रेसिडेंट, पीएम, गवर्नर, स्टेट गवर्नर, महात्मा गांधी, इंदिरा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, यूनाइटेड नेशन ऑर्गेनाइजेशन, अशोक चक्र और धर्म चक्र भी शामिल हैं।

लिखें अपने विचार